अनुराग ठाकुर बताएं, चार बार सांसद रहते कौन सा प्रोजेक्ट लाया ,प्रेम कुमार धूमल के शिलान्यास वाले हमीरपुर बस स्टैंड को भी नहीं बनवा पाए:सुक्खू

बड़सर में पकड़े गए 55 लाख रुपये बिकाऊ विधायकों के : मुख्यमंत्री

हमीरपुर से सतपाल रायजादा को कांग्रेस सांसद बनाने की जनता से अपील की

हमीरपुर/भोरंज।

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि बड़सर में सोमवार को पकड़े गए 55 लाख रुपये बिकाऊ विधायकों के हैं। हमारी सरकार ने हर क्षेत्र में नाकाबंदी करवाई हुई है, भाजपा की ओर से बिकाऊ विधायकों को दिए गए करोड़ों रुपयों को इसी तरह जब्त किया जाएगा। भ्रष्टाचार के पैसे को पकड़ कर रहेंगे। मुझे पूरा विश्वास है कि जनबल जीतेगा, धनबल हारेगा, क्योंकि लोकतंत्र को जनता ही जीवंत रख सकती है।
मुख्यमंत्री ने भोरंज, चंबोह व लंबलू में लोकसभा उम्मीदवार सतपाल रायजादा के समर्थन में आयोजित चुनावी जनसभाओं को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अनुराग ठाकुर बताएं चार बार सांसद रहते कौन से प्रोजेक्ट लाए। अनुराग अब जनता को ठगना छोड़कर कामों का हिसाब देना शुरू करें। सांसद रहते वह अपने पिता व पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के शिलान्यास वाले हमीरपुर बस स्टैंड का निर्माण कार्य नहीं करवा पाए। वह केंद्र से भी पैसा ला सकते थे। मैंने मुख्यमंत्री बनने के बाद हमीरपुर बस स्टैंड के लिए 50 करोड़ रुपये दिए। बस स्टैंड का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है और एक वर्ष में काम पूरा करने के निर्देश दिए हैं। भोरंज का बस स्टैंड हमने दिया। आप हमीरपुर से 26 साल से भाजपा सांसद चुनकर भेज रहे हैं, इस बार कांग्रेस उम्मीदवार सतपाल रायजादा को जिताकर भेजिये, साथ मिलकर हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की सूरत बदल देंगे।
सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि आम परिवार से उठकर जब मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुंचा तो भावना यह थी कि गरीब व वंचित लोगों के लिए नीतियां बनाकर हरसंभव काम करूंगा। पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने फिर से सत्ता पाने के लिए पानी की तरह पैसा बहाया। अंतिम छह माह के कार्यकाल में जयराम सरकार ने 1000 संस्थान बिना बजट के खोल दिये, न उनमें कर्मचारी थे, न भवन न ही अन्य सुविधाएं। हमारी सरकार ने सत्ता में आने के बाद बिना बजट और आवश्यकता के खोले संस्थानों को बंद किया। सरकार ने बजट, कर्मचारियों व सुविधाओं सहित नए सिरे से कुछ संस्थान व दफ्तर खोले हैं।
उन्होंने कहा कि अपने जीवन के अनुभव के आधार पर सुख आश्रय योजना लाए और 4000 बच्चों को चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट का दर्जा दिया। प्राकृतिक आपदा में भाजपा सांसद कहीं नजर नहीं आए। केंद्र से कोई मदद न मिलने के बावजूद 4500 करोड़ रुपये का राहत पैकेज देकर 22000 परिवारों को फिर बसाया। कोई परिवार मेरे पास पैसे मांगने नहीं आया, मैंने पीड़ित परिवारों का दर्द समझकर नया मकान बनाने के लिए 7 लाख रुपये दिए, जबकि प्रधानमंत्री आवास योजना में मात्र डेढ़ लाख रुपये मिलते थे। कांग्रेस सरकार ने 70 साल से अधिक आयु के बुजुर्गों के लिए मुफ्त इलाज योजना लाई है, जिसके तहत उनका 25 लाख रुपये तक का इलाज हो सकेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 1 जून का जून लोकतंत्र की दशा और दिशा तय करेगा। अगर बिकाऊ विधायकों और उन्हें खरीदने वाली पार्टी को जनता सबक सिखाएगी तो लोकतंत्र की नींव मजबूत होगी। बिकाऊ आजाद इसलिए इस्तीफ़ा दे रहे हैं, क्योंकि उनकी आत्मा धन के नीचे दब चुकी है। क्या व इस्तीफा देने के बाद दोबारा चुनाव नहीं लड़ेंगे।
इस दौरान विधायक सुरेश कुमार, लोकसभा उम्मीदवार सतपाल रायजादा, केसीसी बैंक चेयरमैन कुलदीप पठानिया, पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा, पूर्व सीपीएस अनीता वर्मा, लोकसभा प्रभारी अनीस अहमद, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्य प्रवक्ता प्रेम कौशल, पूर्व उम्मीदवार पुष्पिंदर वर्मा, प्रोमिला, चेयरमैन रामचंद पठानिया, एपीएमसी चेयरमैन अजय शर्मा, एडवोकेट रोहित शर्मा, जिला परिषद सदस्य संगीता, राजीव राणा, पंचायती राज संगठन के अध्यक्ष विक्रम ठाकुर, युवा कांग्रेस अध्यक्ष गोल्डी इत्यादि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें

Leave a Comment