19/10/2021
HAMIRPUR

प्रत्येक पंचायत को मिलेगी 10 लाख रुपए की धनराशिः जय राम ठाकुर 

  •  

    कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास

    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज शिमला से वीडियो कॉन्फ्रेंस  के माध्यम से ऊना जिले के कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के गेहरा धनेट में 53.14 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले अटल आदर्श विद्यालय, 4.93 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले क्षेत्रीय पशु चिकित्सालय बरनोह और 4.20 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले मुर्राह भैंस प्रजनन फार्म बरनोह का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने बाद में झलेड़ा में आयोजित स्वर्ण जयन्ती ग्राम स्वराज सम्मेलन को भी वर्चुअली सम्बोधित किया।

    मुख्यमंत्री का आज ऊना जिले के प्रवास का कार्यक्रम था लेकिन शिमला में भारी बर्फबारी के कारण वह व्यक्तिगत तौर पर वहां नहीं जा सके।

    क्यारियां में आयोजित जनसभा को वर्चुअल माध्यम से सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्ण राज्यत्व प्राप्त होने के उपरान्त अपनी 50 वर्षो की विकास यात्रा में प्रदेश ने हर क्षेत्र में मुकाम हासिल किया है। राज्य ने तरक्की का यह सफर प्रदेशवासियों के सहयोग तथा समर्थन से पूरा किया है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में पूर्ण राज्यत्व स्वर्ण जयंती यात्रा आयोजित की जाएगी। इस यात्रा के माध्यम से हिमाचल में पिछले 50 वर्षों में विभिन्न क्षेत्रों में हुए बदलाव को दर्शाया जाएगा।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना सफल हुई है। देश की दो कम्पनियों ने कोविड की वैक्सीन तैयार करने की उपलब्धि हासिल की है। हिमाचल प्रदेश में प्रथम चरण में 93 हजार स्वास्थ्य कर्मियों के टीकाकरण का कार्य सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है।

    जय राम ठाकुर ने कहा कि कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में सड़कों के निर्माण कार्य पर 150 करोड़ रुपये व्यय किये जा रहे हैं। नागरिक अस्पताल बंगाणा को स्तरोन्नत कर वहां 50 बिस्तरों की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है जबकि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र थानाकलां में चैबीसों घंटे आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जा रही हैं।

    उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र को 50 करोड़ रूपये प्रदान किये गए हैं। बंगाणा में 10 करोड़ रूपये की लागत से ब्लाॅक कार्यालय और 18 करोड़ रुपये की लागत से मिनी सचिवालय का निर्माण किया जा रहा है। थानाकलां में ही 10 करोड़ रुपये की लागत से गौ अभयारण्य का निर्माण किया जा रहा है जिसमें 400 बेसहारा पशुओं को रखने की व्यवस्था होगी।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि 9.14 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले ओलिंडा से बोहरू सम्पर्क मार्ग, 11.67 करोड़ रूपये से निर्मित होने वाले सैली से हंडोला सम्पर्क मार्ग, 7.17 करोड़ रुपये से बनने वाले खरूणी-खैरियां वाया चपलाह, गारलां, डीहर, मकड़ी चम्वोआ सम्पर्क मार्ग, 15.55 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली संवर्द्धन जलापूर्ति योजना धार चमुखा से पिपलू, डरोह, सरोह और चमयारी सिहाना का कार्य शीघ्र आरम्भ किया जाएगा।

    जय राम ठाकुर ने झलेड़ा में आयोजित स्वर्ण जयन्ती ग्राम स्वराज सम्मेलन को भी वर्चुअली सम्बोधित किया। उन्होंने लोकतंत्र की मूल इकाई पंचायती राज संस्थाओं के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को बधाई देते हुए कहा कि विकास के लिए सभी को मिलकर काम करने और सभी को साथ लेकर आगे बढ़ने की जरूरत है।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के चुुनाव मंे प्रदेश में 102 पंचायतें निर्विरोध चुनी गई हैं। प्रदेश सरकार की घोषणा के अनुसार प्रत्येक पंचायत को 10 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी। पंचायती राज संस्थाओं के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को इनके दायित्वों और भूमिका के सम्बन्ध में प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा।

    जय राम ठाकुर ने कहा कि 14वें वित्त आयोग की राशि केवल पंचायतों को ही दी जाती थी लेकिन अब 15वें वित्त आयोग की राशि पंचायती राज संस्थाओं की तीनों इकाईयों को प्रदान की जा रही है। जिला परिषद व पंचायत समिति को 15-15 प्रतिशत जबकि ग्राम पंचायतों को 70 प्रतिशत राशि प्रदान की जा रही है।

    उन्होंने कहा कि 15वें वित्त आयोग के अन्तर्गत अब तक इस वर्ष 214.50 करोड़ रुपये की राशि प्रदान की जा चुकी है, जिसमें जिला परिषद को 32.17 करोड़ रुपये और इतनी ही राशि पंचायत समिति को जबकि 150.16 करोड़ रुपये ग्राम पंचायतों को जारी किए जा चुके हैं। इस धनराशि में से 50 प्रतिशत पंचायतें स्थानीय आवश्यकताओं को पूरा करने और शेष 50 प्रतिशत राशि स्वच्छता व पेयजल आदि पर व्यय कर सकेंगी।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने कोविड संकट के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और वे बधाई के पात्र हैं।

    इस अवसर पर वीडियो संदेश के माध्यम से केन्द्रीय वित्त एवं कारपोरेट मामले राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को बधाई व शुभकामनाएं देते हुए आशा व्यक्त की कि वे कड़ी मेहनत से विकास के नये आयाम स्थापित करेंगे। उन्होंने जन प्रतिनिधियों से सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों का लाभ लोगों को सुनिश्चित करने के लिए निरन्तर प्रयास करने का आह्वान किया।

    पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने क्षेत्र में विभिन्न विकास कार्यों के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्षों में पंचायती राज संस्थाओं को मजबूत करने के लिए प्रदेश सरकार ने कारगर कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि पंचायत घरों के निर्माण के लिए 20 करोड़ रूपये की राशि व्यय की है।

    वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि प्रदेश में नवगठित पंचायतों के भवन निर्माण के लिए भी तीन करोड़ रूपये की राशि जारी की जा चुकी है और अगले वित्त वर्ष में 15 करोड़ रूपये की राशि जारी की जाएगी। सभी को गांव के विकास के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ना होगा तभी देश का विकास सुनिश्चित होगा। उन्होंने कहा कि पंचायतों को विकास के लिए पांच वर्ष की योजना तैयार करनी चाहिए।

    इस अवसर पर वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सत्ती, विधायक बलवीर सिंह व राजेश ठाकुर, एच.पी.एस.आई.डी.सी. के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार, हिमुडा के उपाध्यक्ष प्रवीण शर्मा, ए.पी.एम.सी. अध्यक्ष बलवीर बग्गा, जिला परिषद अध्यक्षा नीलम कुमारी, भाजपा के जिला अध्यक्ष मनोहर लाल, मंडल अध्यक्ष तरसेम लाल शर्मा, पूर्व विधायक नवीन धीमान, भाजपा नेता विनोद ठाकुर, पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि, उपायुक्त राघव शर्मा एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Related posts

रक्तदान दुनिया का सबसे बड़ा दान है इसलिए रक्त महादान है – धूमल 

ADM News India

अब आया eSim -: Jio, Airtel और Vi यूजर्स कैसे पाएं e-Sim, किन फोन्स पर करेगा काम? जानें पूरा प्रोसेस

ADM News India

अमनेड के 16 परिवारों के 38 लोगों ने कांग्रेस छोड़ थामा भाजपा का दामन 

ADM News India