19/10/2021
HAMIRPUR

सीयूएचपी में आज तक हो रहा भारत सरकार द्वारा बैन की “ई चाइनीज ऐप का इस्तेमाल

केंद्रीय विश्वविद्यालय हुआ लामहीन, नहीं मान रहा भारत सरकार के भी निर्देश
सीयूएचपी में आज तक हो रहा भारत सरकार द्वारा बैन की “ई चाइनीज ऐप का इस्तेमाल

काँगड़ा /
भारत चाइना के बीच चल रहे तनाव के बीच भारत सरकार ने कुल 118 चाइनीज ऐप को सुरक्षा के मद्देनजर बैन किया था लेकिन धर्मशाला स्थित केंद्रीय विश्वविद्यालय हिमाचल प्रदेश को जैसे यह फरमान समझ नहीं आया है। ऐसे में केंद्रीय विश्वविद्यालय आज तक भारत सरकार द्वारा बैन की “ई ऐप का इस्तेमाल विवि की कामकाजी प्रक्रिया के ंलिए भीकर रहा है। बता दें कि इस दौरान केंद्रीय विश्वविद्यालय हिमाचल प्रदेश में डाक्यूमेंट स्कैन आदि करने के लिए आज तक कैम स्कैनर ऐप का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसे 1 अ”स्त को भारत सरकार ने बैन कर दिया था। केंद्रीय विश्वविद्यालय ने हाल ही में अपनी वैबसाइट पर टेंडर से संबंधित कुछ डाक्यूमेंट अपलोड किए हैं जिनमें सरेआम स्कैनड बॉय कैम स्कैनर पढ़ा जा सकता है जोकि भारत सरकार के निर्देशों की सरेआम अवहेलना है। सवाल यह उठता है कि क्या केंद्रीय विश्वविद्यालय भारत सरकार के निर्देशों का पालन करने के लिए बाध्य नहीं है या फिर जानबूझ कर केंद्रीय विश्वविद्यालय इन निर्देशों की अवहेलना कर रहा है या फिर केंद्रीय विश्वविद्यालय के पास इतना भी बजट नहीं है कि अपने कामकाजी कार्यों के लिए एक स्कैनर का इस्तेमाल कर सके? बता दें कि चाइना के चल रही तनावपूर्ण स्थिति के चलने भारत सरकार ने अ”स्त माह में कई चाइनीज ऐप को बैन किया था, जिसमें कैम स्कैनर भी एक ऐप थी लेकिन केंद्रीय विश्वविद्यालय में आज तक इस ऐप का इस्तेमाल धड़ले से हो रहा है।
भारत सरकार द्वारा कुछ ऐप के इस्तेमाल पर प्रतिबंध ल”ाया “या है व केंद्रीय विश्वविद्यालय भी इन नियमों की पालना करता है। उक्त मामले में जांच की जाएगी व इसके कारणों का पता लाया जाए”।
डा. हेमराज ठाकुर, अतिरिक्त रजिस्ट्रार केंद्रीय विश्वविद्यालय, धर्मशाला, हिमाचल प्रदेश।

Related posts

नगर परिषद और नगर पंचायत के प्रत्याशी 24, 26, 28 को भर सकेंगे नामांकन

Web1Tech Team

सरकाघाट की डाक्टर पल्लवी शर्मा और उसकी टीम ने कड़ी मेहनत के ऑपरेशन से बचाई गाय की जान

ADM News India

हिमाचल पुलिस ने दिल्ली में पकड़ी 30 करोड़ की हेरोइन 

ADM News India