21/10/2021
HAMIRPUR

कपड़ों की तरह अपने शीर्ष नेताओं पर आस्था के बदलने का आचरण है विधायक राणा का – विनोद ठाकुर

सुजानपुर/

हिमाचल में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं ने सुजानपुर विधायक का साथ छोड़ दिया है, उनके कार्यक्रम में कुछ एक को छोड़कर बाकी सभी कांग्रेस संगठन के नेताओं ने किनारा कर लिया है यही कारण है कि अब विधायक को बाहर से वीरभद्र समर्थक बतौर मुख्य अतिथि सुजानपुर में बुलाने पढ़ रहे हैं ताकि उनके साथ मंच पर बैठने के लिए कोई तो मौजूद हो सके यह बात सुजानपुर मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र ठाकुर उपाध्यक्ष अंकुश गुप्ता मीडिया प्रभारी विनोद ठाकुर ने जारी प्रेस व्यान में कही ।भाजपा मंडल पदाधिकारियों ने विधायक के ऊपर तीखा हमला बोला है उन्होंने कहा कि शनिवार को सुजानपुर में विधायक राणा के कार्यक्रम में बद्दी से इंटक अध्यक्ष बाबा हरदीप को मुख्य अतिथि बुलाया गया। जबकि इसके अलावा मंच पर विधायक के सिवा कोई भी शीर्ष नेता नजर नहीं आया। इसके साथ-साथ जिला के ही कांग्रेस विधायक संगठन में बड़े पद पर आसीन कार्यकर्ता पूर्व विधायक सब उनके कार्यक्रम से कन्नी काट चुके थे यहां तक की उनके कार्यक्रम में अब जो लोग पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के समय आगे पीछे घूमते थे वह भी अब विधायक से पल्ला छुड़ाते हुए दूर जा चुके हैं। विधायक के बार-बार बुलाने पर भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचते। विनोद ठाकुर ने कहा कि विधायक राजेंद्र राणा पूरी तरह बौखला गए हैं और क्योंकि अब उन्हें पता चल गया है कि वीरभद्र सिंह के जाने के बाद उनकी अब काग्रेस में दाल गलने वाली नहीं है। कांग्रेस पार्टी के नेता ही अब राजेंद्र राणा पर वार करते हुए अक्सर सुनाई पड़ते हैं कि राजेंद्र राणा आया राम और गयाराम की राजनीति करते हैं राजेंद्र राणा जिस तरह से रोजाना अपने कपड़े बदलते हैं उसी प्रकार वह अपने शीर्ष नेताओं के प्रति आस्था में बदलते रहते हैं और यही कारण है कि कांग्रेस के शीर्ष नेता राणा से दूरियां बनाने और परहेज रखने लग पड़े हैं। क्योंकि विधायक राणा कब किस करवट बदल जाए इनका कोई अता पता नहीं है। जिस तरह से आजकल वह कैबिनेट मंत्री के स्वागत के लिए जगह जगह पर लगाए होल्डिंग्स को लेकर चर्चा में हैं और अपने आप को अब कांग्रेसी विधायक कहते हुए भी उन्हें शर्म आने लग पड़ी है। इस बात को देखते हुए अब कांग्रेस संगठन के पदाधिकारी उनसे लगातार दूरी बना रहे हैं यही कारण है कि सुजानपुर में आयोजित कार्यक्रम में राजेंद्र राणा को बद्दी से मुख्य अतिथि को बुलाना पड़ा जबकि बद्दी से नजदीक हिमाचल में कांग्रेस के कई शीर्ष नेता मौजूद है जो मुख्य अतिथि बन सकते हैं लेकिन यह बात सच है कि विधायक राजेंद्र राणा के कार्यक्रम में अब काँग्रेस सगठन से कोई भी व्यक्ति शिरकत करने नहीं पहुंच रहा है और ना ही विधायक राणा को संगठन की विशेष बैठकों में विधायक को बुलाया जा रहा है इस बात के प्रमाण कई बार प्रदेश में और विशेष रूप से जिला हमीरपुर में देखने को मिले है

Related posts

हिमाचल पथ परिवहन निगम को मिलेंगे 400 चालक… भर्ती

ADM News India

झूठ बोलने के बजाये, 56 लाख का हिसाब दें अग्निहोत्री : कांग्रेस

ADM News India

शहीद परिवार को प्रशासन द्वारा किया जा रहा गुमराह

ADM News India