21/10/2021
HAMIRPUR

शहीद परिवार को प्रशासन द्वारा किया जा रहा गुमराह

हमीरपुर /
उपमण्डल भोरंज के अतर्गत पड़ने वाले गांव कड़ोहता के ग्लवान घाटी LAC में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में 20 सैनिक शहीद हुए । जिनमें हिमाचल प्रदेश से हमीरपुर जिला के कड़ोहता गांव के अंकुश ठाकुर ने भी शहादत पाई। अंकुश ठाकुर के शहीद होने पर जय राम ठाकुर माननीय मुख्यमंन्त्री हिमाचल प्रदेश भी शहीद अंकुश ठाकुर के परिवार के साथ दु:ख बांटने और उनको डांडस बधाने शहीद अंकुश के पैतृक गांव कड़ोहता में आये थे । ग्रामीणों में युवक मण्डल बधानी, बाबा बालक नाथ नि:स्वार्थ सेवा सोसायटी के प्रधान राजन शर्मा, अनिल सौरभ , लक्शित पटियाल, रिंकल सहित अन्यो ने कहा कि सीएम ने शहीद अंकुश ठाकुर के नाम पर घोषणायें की थी। जििसमें मनोह स्कूल का नाम शहीद अंकुश ठाकुर के नाम पर करना, अंकुश ठाकुर के नाम पर गेट बनाना व कड़ोहता में स्थित प्राइमरी स्वास्थय केंन्द्र को अपग्रेड करना। इनमें से अभी तक एक भी घोषणा पूरी नहीं हुई है, जबकी शहीद हुए और घोषणा किये हुए एक साल होने वाला है। जो शहीद के नाम पर एक रोड़ बनना है उसके बारे में जब कल शहीद के पिता ने भोरंज में एक्शन (PWD) से इस बारे में पूछा तो एक्शन ने उनसे कहा कि अभी तक उनके पास पीछे से पैसा नहीं आया है, लेकिन आज जब BDO कार्यालय में उन्होंने पता किया तो उन्हें वहां से पता चला कि पैसा दिसंबर महीने का PWD वालों के पास चला गया है। उन्होंने कहा कि ऐसा गुमराह करने का रवैया वो भी एक शहीद के पिता के साथ यह प्रशासन के लिए बहुत ही शर्म की बात है और जनता इससे काफी दुखी और आक्रोश में है। शहीद अंकुश ठाकुर के मित्रों भी इस घटना से काफी गुस्सा हैं और उनकी मांग है कि शहीद परिवार के साथ ऐसा करने बालों पर कार्यवाही होनी चाहिए और जो घोषणांये की गई थी, उन्हें जल्द से जल्द पूरा किया जाये।

Related posts

धूमल के प्रयासों से सुजानपुर को मिली करीब 5 करोड़ की सौगात: विनोद ठाकुर

ADM News India

सुजानपुर विधायक की हालत थोथा चना बाजे घना – सुजानपुर मंडल

ADM News India

कोविड-19 महामारी की रोकथाम के दृष्टिगत पाबंदियां 7 जून प्रातः 6.00 बजे तक रहेंगी लागू, सभी दुकानें एवं बाजार सप्ताह में पांच दिन पांच घंटों तक खुले रहेंगे, जिला दण्डाधिकारी ने जारी किए आदेश

ADM News India