HIMACHAL PARDESH

महंगा हुआ ATM से पैसा निकालना, अब प्रति ट्रांजैक्शन 21 रुपये लग रहा चार्ज

यदि आपको डिजिटल ट्रांजैक्शन की आदत नहीं है या आप कैश ट्रांजैक्शन को ज्यादा पसंद करते हैं, तो नए साल में आपकी जेब का बोझ बढ़ने वाला है. दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई (RBI) के एक आदेश के बाद, बैंकों ने एटीएम ट्रांजैक्शन पर 1 जनवरी, 2022 से चार्ज बढ़ा दिया है. अब बैंकों के ग्राहकों को हर महीने बैंक एटीएम से मुफ्त विड्राल की लिमिट पार करने के बाद अतिरिक्त विड्राल के लिए अधिक शुल्क देना होगा. आरबीआई के 10 जून, 2021 की नोटिफिकेशन के मुताबिक, 1 जनवरी, 2022 से बैंक 20 रुपये के बजाय अब 21 रुपये और जीएसटी एटीएम ट्रांजैक्शन चार्ज के तौर पर वसूल सकेंगे. केंद्रीय बैंक ने एटीएम लगाने की बढ़ती लागत और बैंकों या व्हाइट-लेबल एटीएम ऑपरेटरों द्वारा किए गए एटीएम मेंटनेंस के खर्च का हवाला देते हुए 1 जनवरी, 2022 से बदलाव को नोटिफाई किया था.

पीएम किसान:खुशखबरी- मोदी सरकार ने किसानों के खाते में भेजे 20 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा, फटाफट चेक करें बैलेंस मेट्रो शहरों और गांवों के लिए अलग है मुफ्त विड्राल की लिमिट ग्राहक अपने बैंक एटीएम से हर महीने पांच फ्री ट्रांजैक्शन (फाइनेंशियल और नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन सहित) के लिए पात्र हैं. इससे अधिक के ट्रांजैक्शन पर 21 रुपये और जीएसटी देने पड़ेंगे. पहले यह चार्ज 20 रुपये था. ग्राहक अन्य बैंक के एटीएम से फ्री ट्रांजैक्शन (फाइनेंशियल और नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन सहित) के लिए भी पात्र हैं. तीन ट्रांजैक्शन मेट्रो सिटी में और पांच ट्रांजैक्शन नॉन मेट्रो सिटी में है. ये भी पढ़ें- Indian Railways: लखनऊ से मुंबई का सफर बनेगा आसान, रेलवे इन ट्रेनों के कोचों में करने जा रहा ये बड़ा बदलाव अगस्त 2012 में किया गया था

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

COVID-19

India
Confirmed: 37,122,164Deaths: 486,066