HIMACHAL PARDESH

सांसद खेल महाकुंभ से निकलेंगे कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी : धूमल

सुजानपुर में सांसद इंदु गोस्वामी ने पूर्व मुख्यमंत्री की उपस्थिति में किया महाकुंभ का शुभारंभ

हमीरपुर

संसदीय क्षेत्र हमीरपुर के बच्चों और युवाओं को खेलों की ओर प्रेरित करने तथा उन्हें अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन के लिए बेहतर मंच उपलब्ध करवाने के लिए केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर द्वारा शुरू किया गया सांसद खेल महाकुंभ शनिवार को सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र में भी आरंभ हो गया। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सुजानपुर के प्रांगण में आयोजित शुभारंभ समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी विशेष रूप से उपस्थित रहे, जबकि, सांसद इंदु गोस्वामी ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की।
इस अवसर पर प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि सांसद खेल महाकुंभ के अलावा सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा, मेधावी विद्यार्थी भ्रमण योजना और कई अन्य विशेष योजनाओं के कारण अनुराग सिंह ठाकुर आज देश के अन्य सांसदों के लिए एक उदाहरण बनकर उभरे हैं। अनुराग की विशेष पहल सांसद खेल महाकुंभ का अनुसरण करते हुए अब उत्तर प्रदेश और देश के अन्य राज्यों के सांसद भी इस तरह के आयोजन करवा रहे हैं। धूमल ने कहा कि इस बार खेल महाकुंभ में हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के एक लाख से अधिक बच्चे, युवा और अन्य खिलाड़ी जुड़ रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि महाकुंभ से कई ऐसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी निकलेंगे जो आने वाले समय में राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश और प्रदेश का नाम रोशन करेंगे। सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं देते हुए धूमल ने कहा कि खेलों में जीत और हार तो चलती रहती है, लेकिन आप कैसे और किस तरह खेले, वह सबसे महत्वपूर्ण होता है। इसलिए सभी प्रतिभागी अनुशासन एवं उच्च खेल भावना के साथ महाकुंभ में भाग लें।
इंदु गोस्वामी ने कहा कि अनुराग सिंह ठाकुर ने देश में खेलों के प्रति एक अलग विजन रखा है और उनके द्वारा आरंभ किया गया सांसद खेल महाकुंभ जैसा आयोजन पूरे देश में लोकप्रिय हो रहा है। देश में खेलों की दशा सुधारने के लिए वह सही मायनों में गंभीर प्रयास कर रहे हैं और उन्होंने देश भर के सांसदों को जागृत किया है। इंदु गोस्वामी ने कहा कि खेल महाकुंभ का सबसे ज्यादा लाभ उन दूरदराज क्षेत्रों के प्रतिभाशाली खिलाडिय़ों को हो रहा है, जिन्हें अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन के लिए अक्सर उचित मंच नहीं मिल पाता है। अनुराग ने युवाओं को सिर्फ खेलों की ओर प्रेरित ही नहीं किया है, बल्कि देश की भावी पीढ़ी को एक नई दिशा देने की सराहनीय पहल की है।
इंदु गोस्वामी ने कहा कि महाकुंभ में लड़कियों की भागीदारी से इन प्रतिभाओं को नई उड़ान भरने का अवसर मिला है। शारीरिक फिटनेस और योग की चर्चा करते हुए इंदु गोस्वामी ने कहा कि कोरोनाकाल में हर व्यक्ति को इनके महत्व का बखूबी अहसास हुआ है। देश की बागडोर संभालते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दिशा में बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने बताया कि फिट इंडिया अभियान में लगभग 2400 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इसके तहत देश के 359 जिलों के लिए लगभग 453 खेलो इंडिया केंद्र स्वीकृत किए जा रहे हैं। खेलो इंडिया अभियान के तहत आयोजित स्कूली खेलों में कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी उभर कर सामने आए हैं और केंद्र सरकार इनके प्रशिक्षण के लिए विशेष व्यवस्था कर रही है। इसके अलावा राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज योजना भी शुरू की गई है। इंदु गोस्वामी ने कहा कि खेलों के सर्वोच्च राष्ट्रीय पुरस्कार ‘खेल रत्न’ का नाम हाकी के जादूगर मेजर ध्यान चंद से करके मोदी सरकार ने खिलाडिय़ों को उच्च सम्मान दिया है। उन्होंने कहा कि प्रेम कुमार धूमल ने भी अपने मुख्यमंत्रित्वकाल में सरकारी नौकरियों में खिलाडिय़ों को तीन प्रतिशत आरक्षण दिया था, जिससे प्रदेश के सैकड़ों प्रतिभाशाली खिलाड़ी लाभान्वित हुए हैं।
इससे पहले महाकुंभ के सह संयोजक नरेंद्र अत्री, सुजानपुर भाजपा मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र ठाकुर और भाजयुमो जिला अध्यक्ष अजय रिंटू ने मुख्य अतिथि, अन्य अतिथियों तथा सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया तथा महाकुंभ के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। स्थानीय पाठशाला के विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए, जबकि योग की रिकार्डधारी छात्रा निधि डोगरा ने योगासनों की प्रस्तुति से सबको प्रभावित किया। सांसद इंदु गोस्वामी ने निधि डोगरा को 11 हजार रुपये की राशि देने की घोषणा भी की। महाकुंभ में महिलाओं की कबड्डी का पहला मैच डिग्री कालेज सुजानपुर और झनियारा के बीच खेला गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

COVID-19

India
Confirmed: 37,122,164Deaths: 486,066