21/10/2021
HIMACHAL PARDESH

गीदड़ धमकियों से डरने वाले नहीं है तिरंगा हमारी शान:सुखू

एचआरटीसी उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री और अन्य भाजपा नेताओं द्वारा अपनी राजनीति चमकाने और नादौन के विधायक सुखविंदर सिंह सुक्खू को नीचा दिखाने के लिए सोशल मीडिया पर वीडियो से छेड़छाड़ कर दिखाने का कार्य बहुत ही निंदनीय है। नादौन के विधायक सुखविंदर सिंह सुक्खू को राष्ट्र विरोधी ताकतों द्वारा तिरंगा झंडा न फहराने की धमकी मिली थी इसके मद्देनजर शिमला में विधानसभा सदन के बाहर कांग्रेस के विधायक सुक्खू द्वारा तिरंगा झंडा फहरा कर देश विरोधी और धमकाने वाली ताकतों को स्पष्ट रूप से संदेश दिया कि हम आपकी गीदड़ धमकियों से डरने वाले नहीं है तिरंगा हमारी शान है और हिमाचल प्रदेश में भी तिरंगे को बहुत ही शान से फहराया जाएगा। इस कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय गान गाया गया और राष्ट्रीय गान के दौरान सावधान मुद्रा में खड़े विधायक सुक्खू द्वारा फोल्ड किया गया तिरंगा झंडा हवा के साथ खुल गया। जिसे राष्ट्रीय गान के पश्चात फिर विधायक सुक्खू द्वारा शान से फहराया गया। एचआरटीसी के उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री और उनके साथ छुटभैया नेताओं के पास विधायक सुक्खू के खिलाफ बोलने के लिए कुछ नहीं है यह बात किसान कांग्रेस के राज्य सयोजक विवेक कटोच, जिला परिषद सदस्य संजय कुमार, गलोड खास प्रधान संजीव शर्मा, बड़ा प्रधान सरिता देवी, किटपल प्रधान मीरा देवी, भूंपल प्रधान सुशील शर्मा शीलू, करौर प्रधान राजीव सोनू, बर्धियाल प्रधान रीता देवी, रैल प्रधान रेणु बाला, बसारल प्रधान रमना देवी और जसाई प्रधान शालू देवी ने कही। उन्होंने कहा कि तिरंगे को आधार बना कर सोशल मीडिया पर वीडियो से छेड़छाड़ कर षड्यंत्र रचना और विधायक सुक्खू को नीचा दिखाने की कोशिश करना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि हीन भावना से ग्रस्त एचआरटीसी उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री अपनी राजनीतिक स्वार्थ पूर्ति के लिए इस स्तर पर गिर जाना शोभा नही देता। उन्होंने कहा कि बेहतर होता विजय अग्निहोत्री मुद्दों के आधार पर राजनीति करें। इस तरह अपनी राजनीतिक स्वार्थ पूर्ति के लिए छेड़छाड़ किया हुआ वीडियो डालना और विधायक सुक्खू को निशाना बनाना, इससे देश विरोधी ताकतों को बल मिलता है। हम सब भारत वासियों के लिए अपने देश का झंडा उनकी शान है।

Related posts

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने तीसरी, पांचवी व आठवीं की कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए पहली बार परीक्षा शुल्क-तीसरी व पांचवी कक्षा के विद्यार्थियों के लिए 100 रुपए का शुल्क होगा, जबकि आठवीं के लिए 150 रुपए का शुल्क निर्धारित किया गया

ADM News India

बीडीसी हमीरपुर के 15 वार्डों में से 5 अनारक्षित

Web1Tech Team

सत्ता के 3 साल,प्रदेश में भ्रष्टाचार, प्रदेश में ना कानून व्यवस्था सुधरी ना महंगाई हुई कंट्रोल. पूंजी पतियों को दिया बढ़ावा असहाय को किया और असहाय: जिला कांग्रेस

Web1Tech Team